RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 2 सौर परिवार

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 2 सौर परिवार is part of RBSE Solutions for Class 6 Social Science. Here we have given Rajasthan Board RBSE Class 6 Social Science Chapter 2 सौर परिवार.

Board RBSE
Textbook SIERT, Rajasthan
Class Class 6
Subject Social Science
Chapter Chapter 2
Chapter Name सौर परिवार
Number of Questions 40
Category RBSE Solutions

Rajasthan Board RBSE Class 6 Social Science Chapter 2 सौर परिवार

पाठगत गतिविधि-आधारित प्रश्न

क्या आप जानते हैं ?
(पृष्ठ सं. 12)

प्रश्न 1.
टाइटन पर जीवन की सम्भावना क्यों है ?
उत्तर:
टाइटन शनि का उपग्रह है। इस पर पृथ्वी की तरह सघन वायुमंडल है। इसका धरातल पृथ्वी जैसा है और इस पर नदियाँ और जलाशय हैं। टाइटन के वायुमंडल की प्रमुख गैस नाइट्रोजन है। ये दशाएँ वहाँ जीवन की सम्भावना को व्यक्त करती हैं। वैज्ञानिक टाइटन पर जीवन का पता लगाने के लिए प्रयासरत हैं।

आओ करके देखें
(पृष्ठ सं. 13)

प्रश्न 1.
ऐसे कौन से ग्रह हैं जिनका कोई उपग्रह नहीं है।
उत्तर:
सूर्य के निकटतम बुध व शुक्र ऐसे ग्रह हैं जिनके कोई उपग्रह नहीं है।

प्रश्न 2.
सौरमण्डल के ग्रहों एवं उपग्रहों की तालिका बनाइए यह भी पता बताइए कि किन ग्रहों के उपग्रह चन्द्रमा से बड़े हैं ?
उत्तर:
तालिका

ग्रहों के नाम उपग्रहों की संख्या
पृथ्वी  01
मंगल 02
बृहस्पति 16 (लगभग)
शनि 18 (लगभग)
अरुण 17 (लगभग)
वरुण 08 (लगभग)

बृहस्पति के उपग्रह गेनीमीड तथा केलिस्टो एवं शनि का उपग्रह टाइटन आकार में चन्द्रमा से बड़े हैं।

पाठ्यपुस्तक के प्रश्नोत्तर

प्रश्न 1.
सही विकल्प को चुनिए
(i) वर्तमान में ग्रहों की संख्या है
(क) आठ
(ख) नौ
(ग) दस
(घ) बारह
उत्तर:
(क) आठ

(ii) सौर मण्डल का सबसे बड़ा ग्रह है
(क) पृथ्वी
(ख) मंगल
(ग) बृहस्पति
(घ) शनि।
उत्तर:
(ग) बृहस्पति

प्रश्न 2.
निम्नलिखित को सुमेलित कीजिए-
RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 2 सौर परिवार 1
उत्तर:
(i) (द)
(ii) (स)
(iii) (ब)
(iv) (य)
(v) (अ)

प्रश्न 3.
रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए
(अ) पृथ्वी का सबसे नजदीकी आकाशीय पिंड
(ब) पृथ्वी सौर परिवार का …………. बड़ा ग्रह है।
(स) पृथ्वी के चारों ओर जो गैसों का आवरण है उसे ………….. कहा जाता है।
(द) ग्रहों की परिक्रमा करने वाले छोटे आकाशीय पिंडों को ………… कहा जाता है।
उत्तर:
(अ) सूर्य
(ब) पाँचवाँ
(स) वायुमण्डल
(द) उपग्रह

प्रश्न 4.
सौरमण्डल के सभी ग्रहों के क्रमशः नाम लिखिए।
उत्तर:
सूर्य से दूरी के अनुसार ग्रहों का क्रम है-बुध, शुक्र, पृथ्वी, मंगल, बृहस्पति, शनि, अरुण एवं वरुण।

प्रश्न 5.
पृथ्वी किन दो ग्रहों के बीच में स्थित है ?
उत्तर:
पृथ्वी शुक्र और मंगल ग्रहों के बीच में स्थित है।

प्रश्न 6.
चन्द्रमा पर जीवन क्यों नहीं पाया जाता है ?
उत्तर:
आधुनिक खगोलशास्त्रियों की खोजों से पता चलता है कि चन्द्रमा पर जल एवं वायु का अभाव है, अतएव इस पर जीवन सम्भव नहीं है।

प्रश्न 7.
चन्द्र कलाएँ किसे कहते हैं ?
उत्तर:
चन्द्रमा की आकृति गोलाकार है और यह सूर्य से प्रकाश प्राप्त करता है। हमेशा आधा भाग प्रकाशित और आधा भाग अँधेरे में रहता है। महीने में एक बार चन्द्रमा का पूर्ण प्रकाशित भाग पृथ्वी के सामने आ जाता है। भारत में इसे पूर्णिमा कहते हैं। इसी प्रकार महीने में एक बार चन्द्रमा का अँधेरा भाग पृथ्वी के सामने होता है, इस स्थिति को अमावस्या कहते हैं। पूर्णिमा से अमावस्या तक चन्द्रमा का प्रकाशित भाग घटता जाता है और अमावस्या से पूर्णिमा तक यह बढ़ता जाता है। चन्द्रमा की इन घटती-बढ़ती आकृतियों को ही चन्द्र कलाएँ (चन्द्रमा की कलाएँ) कहते हैं।

प्रश्न 8.
क्षुद्र ग्रह किन दो ग्रहों के मध्य पाये जाते हैं ?
उत्तर:
क्षुद्र ग्रह मंगल और बृहस्पति ग्रहों के बीच एक पट्टी के रूप में स्थित हैं।

प्रश्न 9.
पृथ्वी को एक अनोखा ग्रह क्यों कहा जाता है ? समझाइए।
उत्तर:
पृथ्वी की ऊपरी ठोस परत को स्थलमंडल कहते हैं जिस पर मिलने वाली मिट्टी से जीवों को भोजन मिलता है। पृथ्वी के चारों ओर वायुमण्डल है। जलमंडल पृथ्वी के लगभग 71 प्रतिशत भाग पर फैला हुआ है। जलमंडल, वायुमंडल एवं स्थलमंडल सौर परिवार में केवल पृथ्वी पर ही पाये जाते हैं। इन तीनों के मिलने से जैव मंडल की उत्पत्ति हुई। यहाँ जीव-जन्तु, पेड़-पौधे और मनुष्यों का अस्तित्व पाया जाता है। वर्तमान समय तक ब्रह्मांड के बारे में जितनी जानकारी प्राप्त हो सकी है, उसके अनुसार पृथ्वी ही एक ऐसा ग्रह है जिस पर जीवन पाया जाता है। इन्हीं कारणों से इसे एक अनोख, ग्रह कहा जाता है।

अन्य महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तर

वस्तुनिष्ठ प्रश्न

प्रश्न 1.
आधुनिक वैज्ञानिकों के अनुसार सौर मण्डल की आयु है
(क) 420 करोड़ वर्ष
(ख) 460 करोड़ वर्ष
(ग) 480 करोड़ वर्ष
(घ) 500 करोड़ वर्ष
उत्तर:
(ख) 460 करोड़ वर्ष

प्रश्न 2.
निम्न में से बाह्य ग्रह कौनसा है-
(क) बुध
(ख) पृथ्वी
(ग) मंगल
(घ) बृहस्पति
उत्तर:
(घ) बृहस्पति

प्रश्न 3.
सूर्य से सबसे निकट का ग्रह है
(क) बुध
(ख) शुक्र
(ग) पृथ्वी
(घ) वरुण
उत्तर:
(क) बुध

प्रश्न 4.
सबसे अधिक उपग्रह वाले ग्रह का नाम बताइए
(क) बृहस्पति
(ख) शनि
(ग) अरुण
(घ) वरुण
उत्तर:
(ख) शनि

प्रश्न 5.
किस ग्रह को पृथ्वी का जुड़वाँ ग्रह कहा जाता है ?
(क) मंगल
(ख) बुध
(ग) शुक्र
(घ) बृहस्पति
उत्तर:
(ग) शुक्र

प्रश्न 6.
निम्न में से किस ग्रहको ‘नीला ग्रह’ कहा जाता है?
(क) बुध
(ख) शुक्र
(ग) पृथ्वी
(घ) शनि

निम्नलिखित को सुमेलित कीजिए
RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 2 सौर परिवार 2
उत्तर:
(i) (स)
(ii) (द)
(iii) (ब)
(iv) (य)
(v) (अ)

रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए
(अ) खगोलीय पिंड एक निश्चित पथ पर सूर्य का चक्कर लगाते हैं जिसे …………… कहा जाता है।
(ब) अन्तर्राष्ट्रीय खगोलीय संगठन ने प्लुटो को …………… का दर्जा दिया है।
(स) शुक्र को पृथ्वी का ……………. माना जाता है।
(द) पृथ्वी का केवल एक ही उपग्रह …………. है।
(य) चन्द्रमा की घटती-बढ़ती आकृतियों को ही ……….. कहा जाता है।
उत्तर:
(अ) कक्ष
(ब) बौने ग्रह
(स) जुड़वाँ ग्रह
(द) चन्द्रमा
(य) चन्द्र कलाएँ

अति लघूत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 1.
भारतीय संस्कृति में ग्रहपति किसे माना गया है ?
उत्तर:
भारतीय संस्कृति में सूर्य को ग्रहपति माना गया है।

प्रश्न 2.
सूर्य की केन्द्रीय स्थिति के बारे में सर्वप्रथम कब व किसने बताया?
उत्तर:
सूर्य की केन्द्रीय थिति के बारे में सर्वप्रथम 1543 ई० में निकोलस कोपरनिकस ने बताया था।

प्रश्न 3.
उन ग्रहों के नाम बताइए जिनके कोई उपग्रह नहीं हैं ?
उत्तर:
बुध और शुक्र ऐसे ग्रह हैं जिनके कोई उपग्रह नहीं हैं।

प्रश्न 4.
बौने ग्रह किसे कहते हैं ?
उत्तर:
ऐसा आकाशीय पिंड जो एक निश्चित पथ के सहारे सूर्य की परिक्रमा करते हैं और दूसरे पिंडों का रास्ता भी काटता है, उन्हें बौने ग्रह कहते हैं।

प्रश्न 5.
लघु पिंड किसे कहते हैं?
उत्तर:
सौरमंडल के सभी छोटे-छोटे पिंड जैसे क्षुद्रग्रह, उल्कापिंड व धूमकेतुओं आदि को लघुपिंड कहा जाता है।

प्रश्न 6.
शुक्र को पृथ्वी का जुड़वाँ ग्रह(भगिनी ग्रह) क्यों कहा जाता है?
उत्तर:
शुक्र को पृथ्वी का जुड़वाँ ग्रह इसलिए कहा जाता है क्योंकि इसका आकार व आकृति लगभग पृथ्वी के समान ही है।

प्रश्न 7.
सूर्य से दूर स्थित ग्रहों पर जीवन सम्भव क्यों नहीं
उत्तर:
सूर्य से दूर स्थित ग्रहों पर जीवन सम्भव न होने का प्रमुख कारण इनका अत्यधिक ठंडा होने के साथ-साथ इनके कम घनत्व को माना जाता है।

प्रश्न 8.
स्थलमंडल मानव के लिए किस प्रकार उपयोगी है ?
उत्तर:
स्थलमंडल पर प्राप्त होने वाली मिट्टी से धरातल के जीवों को भोजन प्राप्त होता है तथा इसमें मिलने वाले खनिज प्राणियों के जीवन निर्वाह के लिए आवश्यक है।

प्रश्न 9.
वायुमंडल से क्या तात्पर्य है?
उत्तर:
पृथ्वी के चारों ओर जो गैसों का आवरण फैला हुआ मिलता है, उस गैसीय आवरण को ही वायुमंडल कहा जाता है।

प्रश्न 10.
वायुमंडल में कौन-कौन सी मुख्य गैसें मिलती हैं ?
उत्तर:
वायुमंडल में मिलने वाली मुख्य गैसों में नाइट्रोजन, ऑक्सीजन, कार्बन डाई आक्साइड, आर्गन व गौण गैसों में हाइड्रोजन, हीलियम आदि गैसें शामिल हैं।

प्रश्न 11.
उपग्रह किसे कहते हैं?
उत्तर:
ग्रहों की परिक्रमा करने वाले छोटे आकाशीय पिंडों को उपग्रह कहा जाता है। यथा-चन्द्रमा, टाइटन, गेनीमीड, डिमोस व फोबोस आदि।

प्रश्न 12.
चन्द्रमा पर जीवन सम्भव नहीं है, क्यों ?
उत्तर:
आधुनिक खगोलशास्त्रियों के अनुसार चन्द्रमा पर जल एवं वायु नहीं है। इसलिए वहाँ जीवन सम्भव नहीं है।

प्रश्न 13.
क्षुद्र ग्रह क्या हैं ?
उत्तर:
मंगल और बृहस्पति ग्रहों के बीच एक पट्टी के रूप में अनेक छोटे-छोटे पिंड हैं जो सूर्य की परिक्रमा करते हैं। इन्हीं पिंडों को क्षुद्र ग्रह या अवान्तर ग्रह कहते हैं।

लघूत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 1.
सौरमंडल (सौर परिवार) क्या है ?
उत्तर:
ग्रह, उपग्रह, धूमकेतु एवं उल्काएँ आदि का सम्मिलित रूप से एक विशाल खगोलीय समूह है जो सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाते हैं। सूर्य एवं पृथ्वी सहित इन सभी पिंडों के समूह को सौर मंडल कहा जाता है।

प्रश्न 2.
शुक्ल पक्ष और कृष्णपक्ष क्या हैं ?
उत्तर:
प्रतिपदा से अमावस्या तक चंद्रमा का प्रकाशित भाग घटता है, इसे कृष्ण पक्ष कहते हैं। अमावस्या के बाद प्रतिपदा से पूर्णिमा तक यह प्रकाशित भाग बढ़ता है इसे शुक्ल पक्ष कहते हैं।

प्रश्न 3.
ग्रहों का वर्गीकरण किस प्रकार किया गया है ?
उत्तर:
आकार, घनत्व एवं निर्माण सामग्री के आधार पर ग्रहों को निम्न दो भागों में बाँटा गया है-

  1. आन्तरिक ग्रह- बुध, शुक्र, पृथ्वी एवं मंगल आन्तरिक ग्रह हैं जिनका आकार छोटा, घनत्व अधिक तथा निर्माण चट्टानों से हुआ है।
  2. बाह्य ग्रह- बृहस्पति, शनि, अरुण एवं वरुण बाह्य ग्रह हैं जिनका आकार बड़ा, घनत्व कम और निर्माण गैसीय या तरल पदार्थों से हुआ है।

प्रश्न 4.
पृथ्वी व बृहस्पति ग्रहों की तुलना कीजिए?
उत्तर:
पृथ्वी व बृहस्पति ग्रहों की तुलना निम्नानुसार है।

तुलना का आधार पृथ्वी बृहस्पति
(i) सूर्य की परिक्रमा यह सूर्य की परिक्रमा 365 दिनों में पूरी करती है। यह सूर्य की परिक्रमा 11 व 11 माह में पूरी करता है।
(ii) अक्ष पर घूर्णन यह अपने अक्ष पर 1 दिन में चक्कर लगाती है। यह अपने अक्ष पर 9 घंटे एवं 56 मिनट में चक्कर लगाता है।
(iii) उपग्रहों की इसके उपग्रहों की संख्या एक है। इसके उपग्रहों की संख्या लगभग 16 है।

दीर्घ उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 1.
जैवमंडल से क्या तात्पर्य है? आरेख बनाकर स्पष्ट करें।
उत्तर:
जैवमण्डल की उत्पत्ति वायुमंडल, स्थलमंडल व जलमंडल इन तीनों के संयोग से हुई है। अर्थात् पृथ्वी पर पाये जाने वाले इन तीनों मंडलों का वह भाग जिसमें वनस्पति व जीव-जंतु होते हैं, उसे जैवमंडल कहा जाता है। इसमें सभी गैसों, धूलिकणों, वाष्प, पृथ्वी के ऊपरी भाग व पृथ्वी पर मौजूद जेल में रहने वाले विभिन्न प्रकार के जीवों के निवास स्थलों को सम्मिलित किया जाता है। इसे निम्न चित्र की सहायता से दर्शाया गया है
RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 2 सौर परिवार 3

प्रश्न 2.
उल्काएँ क्या हैं ? इनकी विशेषताएँ बताइए।
उत्तर:
धूमकेतुओं या क्षुद्र ग्रहों से टूटे हुए टुकड़े जो पृथ्वी की गुरुत्वाकर्षण शक्ति के कारण पृथ्वी की ओर खिंचे चले आते हैं, उल्काएँ कहलाते हैं। इनकी निम्न विशेषताएँ हैं-

  1. उल्काएँ मार्ग में वायुमंडल से घर्षण के कारण जलने लगती हैं और नष्ट हो जाती हैं।
  2. घर्षण के समय ये वायुमण्डल में चमकीली रेखा के रूप में दिखाई देती हैं।
  3. बड़ी आकार वाली उल्काएँ मार्ग में नष्ट नहीं होतीं बल्कि पिंड के रूप में पृथ्वी से टकरा जाती हैं। इस स्थिति में इन्हें उल्का पिंड कहते हैं।
  4. इनके धरातल पर गिरने से गड्ढे बन जाते हैं।

प्रश्न 3.
चन्द्रमा क्या है ? इसकी कलाएँ कितनी होती हैं?
उत्तर:
पृथ्वी का सबसे नजदीक गोलाकार आकाशीय पिण्ड चंद्रमा है जो पृथ्वी के चारों ओर चक्कर लगाता है। इसी कारण इसे पृथ्वी का उपग्रह माना गया है। इसका धरातल पृथ्वी की तरह ऊबड़-खाबड़ है। पृथ्वी की तुलना में यह लगभग 81 गुना छोटा है। यह अपने अक्ष पर 29 दिन में जबकि 27 दिन में पृथ्वी के चारों ओर चक्कर लगाता है। यह सूर्य के प्रकाश के कारण चमकता है। महीने में एक बार | ही चंद्रमा का पूर्ण प्रकाशित भाग पृथ्वी के सामने आता है। इस प्रकाशित भाग में पूर्णिमा से अमावस्या तक घटने व अमावस्या से पूर्णिमा तक बढ़ने की प्रक्रिया मिलती है। इस प्रकार घटने-बढ़ने की इस प्रक्रिया को ही चंद्रमा की कलाएँ कहते हैं जो 16 होती हैं। इन्हें निम्न चित्र की सहायता से दर्शाया गया है
RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 2 सौर परिवार 4

प्रश्न 4.
पृथ्वी पर कितने परिमंडल पाये जाते हैं ? संक्षेप में बताइए।
उत्तर:
पृथ्वी पर निम्न तीन प्रमुख परिमंडल पाये जाते हैं

  • स्थलमंडल
  • वायुमण्डल तथा
  • जलमण्डल

स्थलमंडल पृथ्वी की ऊपरी परत है जिस पर मानव का निवास है। स्थलमंडल पर प्राप्त होने वाली मिट्टी और विभिन्न प्रकार के खनिज जीवन निर्वाह के लिए विशेष महत्वपूर्ण हैं।

पृथ्वी के चारों ओर फैले गैसीय आवरण को वायुमंडल कहते हैं। यह वायुमंडल पृथ्वी की गुरुत्वाकर्षण शक्ति के कारण ही उस पर रुका हुआ है। वायुमंडल की संरचना में गैसों की महत्वपूर्ण भूमिका है। नाइट्रोजन एवं ऑक्सीजन वायुमंडल की प्रमुख गैसें हैं। इसके अलावा वायुमण्डल में जलवाष्प एवं धूलिकण भी पाये जाते हैं। जलमंडल धरातल के लगभग 71 प्रतिशत भाग पर फैला हुआ है। पृथ्वी पर जल महासागरों, सागरों, झीलों और नदियों में पाया जाता है। इन तीनों परिमंडलों के मिलने से एक चौथे परिमंडल की उत्पत्ति होती है जिसे जैवमंडल कहते हैं। जैव मंडल में ही जीव जन्तु, पेड़-पौधे तथा मनुष्य निवास करते हैं।

We hope the RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 2 सौर परिवार will help you. If you have any query regarding Rajasthan Board RBSE Class 6 Social Science Chapter 2 सौर परिवार, drop a comment below and we will get back to you at the earliest.

Leave a Comment